12वीं के बाद छात्रों के लिए कॉमर्स कोर्स

12वीं के बाद छात्रों के लिए कॉमर्स कोर्स

commerce-courses

commerce-courses12वीं के बाद आप कॉमर्स में कई तरह के कोर्सेज में यानि आप अपने रूचि के अनुसार कोर्स चुन सकते हैं और प्रवेश ले सकते हैं जैसे- बी-कॉम (बैचलर ऑफ़ कॉमर्स ),बीबीए (बैचलर ऑफ़ बिज़नस एडमिनिस्ट्रेशन ), बीएमएस (बैचलर ऑफ मैनेजमेंट स्टडीस ), सीए (चार्टर्ड अकाउंटेंसी ), सीएस (कंपनी सेक्रेटरी प्रोग्राम ), (बीबीएस बैचलर ऑफ़ बिज़नस स्टडीज), बीएचएम (बैचलर ऑफ होटल मैनेजमेंट ), सीएफए (चार्टर्ड फाइनेंशियल एनालिस्ट प्रोग्राम). आप बीकॉम के बाद पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स एमकॉम कर सकते हैं, जिसमें फाइनेंस, बिजनेस  एडमिनिस्ट्रेशन, अकाउंटेंसी, इ-कॉमर्स, इकोनॉमिक्स एवं मार्केटिंग जैसे विषयों का अध्ययन करने का बेहतरीन मौका होगा.
कुछ बेहतरीन संस्थान जहाँ आप प्रवेश ले सकते हैं |
आप इन संस्थानों में अपना प्रवेश ले सकते हैं जैसे- श्रीराम कॉलेज ऑफ कॉमर्स (एसआरसीसी), दिल्ली यूनिवर्सिटी. सेंट जेवियर कॉलेज, कोलकाता. सेंट जेवियर कॉलेज, मुंबई. प्रेसिडेंसी कॉलेज, चेन्नई. बी-एम कॉलेज ऑफ कॉमर्स, पुणे. सेंट जोसेफ कॉलेज, बेंगलुरु. कॉलेज ऑफ़  कॉमर्स , पटना. नरसी मोंजी कॉलेज ऑफ कॉमर्स एंड इकोनॉमिक्स, मुंबई. जामिया मिलिया इसलामिया यूनिवर्सिटी, नयी दिल्ली आदि ऐसे संस्थान जो भारत सरकार द्वारा रजिस्टर्ड हो और ध्यान रखें प्रवेश लेते समय संस्थान के बारे में पूरी जानकारी ले लें और  किसी प्रतिष्ठित संस्थान में ही  प्रवेश लें|
कॉमर्स विषय में एक बेहतर विकल्प के तौर उभरा है कंपनी सेक्रेटरी  (सीएस) का कैरियर. कंपनी सेक्रेटरी बनने के लिए तीन स्तर पर परीक्षा पास  करनी होती है- फाउंडेशन, एग्जीक्यूटिव प्रोग्राम एवं प्रोफेशनल प्रोग्राम. सीएस कोर्स करानेवाली देश की एकमात्र संस्था है- द इंस्टीटयूट ऑफ कंपनी सेक्रेटरीज ऑफ इंडिया. यह संसदीय अधिनियम द्वारा स्थापित संवैधानिक निकाय है.
कॉमर्स कोर्स पूरी करने के बाद आप बन सकते हैं |
इकोनॉमिस्ट, स्टेटस्टिशियन, चार्टर्ड अकांउटेंट, अकाउटेंट एग्जीक्यूटिव, कंपनी सेक्रेटरी, कॉस्ट अकाउंटेंट, टैक्स ऑडिटर, टैक्स कंसलटेंट, ऑडिटर, इनवेस्टमेंट एनालिस्ट, फाइनेंस एनालिस्ट, फाइनेंस कंट्रोलर, फाइनेंस प्लानर, फाइनेंस कंसलटेंट, फाइनेंस मैनेजर, स्टॉक ब्रोकर, पोर्ट फोलियो मैनेजर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *